Hindi Story मैनेजमेंट

मैनेजमेंट

एक दिन एक कुत्ता जंगल में रास्ता खो गया. तभी उसने देखा, एक शेर उसकी तरफ आ रहा है. कुत्ते की सांस रूक गयी और उसने सोचा कि “आज तो काम तमाम मेरा..!”

फिर उसने सामने कुछ सूखी हड्डियाँ पड़ी देखीं. वो आते हुए शेर की तरफ पीठ करके बैठ गया और एक सूखी हड्डी को चूसने लगा और जोर-जोर से बोलने लगा. “वाह ! शेर को खाने का मज़ा ही कुछ और है. एक और मिल जाए तो पूरी दावत हो जायेगी !” और उसने जोर से डकार मारी. इस बार शेर सोच में पड़ गया।

उसने सोचा- “ये कुत्ता तो शेर का शिकार करता है ! जान बचा कर भागने में ही भलाई है !” और शेर वहां से जान बचा कर भाग गया. पेड़ पर बैठा एक बन्दर यह सब तमाशा देख रहा था. उसने सोचा यह अच्छा मौका है, शेर को सारी कहानी बता देता हूँ. शेर से दोस्ती भी हो जायेगी और उससे ज़िन्दगी भर के लिए जान का खतरा भी दूर हो जायेगा. वो फटाफट शेर के पीछे भागा।

कुत्ते ने बन्दर को जाते हुए देख लिया और समझ गया कि कोई लोचा है. उधर बन्दर ने शेर को सारी कहानी बता दी कि कैसे कुत्ते ने उसे बेवकूफ बनाया है. शेर जोर से दहाड़ा-
“चल मेरे साथ, अभी उसकी लीला ख़त्म करता हूँ.” और बन्दर को अपनी पीठ पर बैठा कर शेर कुत्ते की तरफ चल दिया।

कुत्ते ने शेर को आते देखा तो एक बार फिर उसके आगे जान का संकट आ गया. मगर फिर हिम्मत करके कुत्ता उसकी तरफ पीठ करके बैठ गया और जोर-जोर से बोलने लगा. “इस बन्दर को भेजे 1 घंटा हो गया. साला एक शेर को फंसा कर नहीं ला सकता !” यह सुनते ही शेर ने बंदर को वहीं पटका और वापस पीछे भाग गया।

शिक्षा:-मुश्किल समय में अपना आत्मविश्वास कभी नहीं खोएं।

Share

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*