समय का महत्त्व Importance of Time

Importance of Time
Importance of Time

समय बहा कर ले जाता है नाम और निशान कोई हम   में रह जाता है और कोई अहम् में। 

तो दोस्तों आज हम बात करते हैं  समय की। जी हाँ वहीँ  समय जिसके उपयोग के लिए आपने पता नहीं कितनी  बार टाईमटेबल बनाये हैं। बस आपसे एक रिक्वेस्ट है की आप इस वीडियो को पूरा देखें  और मुझे पूरा यकीन है की आप इसे देखने के बाद अपना टाइम waste नहीं करेंगे। 

समय का महत्त्व Importance of Time

भगवान् बुद्ध से किसी ने पूछा की हम जीवन में सबसे बड़ी गलती क्या करते हैं तो भगवान् बुद्धा ने उतर दिया ‘सबसे बड़ी गलती हम ये करते हैं की हम ये मान लेते हैं की हमारे पास समय बहुत है ‘

Time धरती पर उन सबसे कम चीजों में से है ,जो चाहे आमिर हो या गरीब ,सभी के पास बराबर है. हर व्यक्ति के पास दिन में २४ घंटे हैं यानि १४४० मिनट। न किसी के पास कम न ही ज्यादा। 

अगर आपको ८६४०० रुपये रोज सुबह दे दिए जाएँ और कह दिया जाए की कल तक ये ख़त्म हो जायेंगे चाहे आप उसे खर्च करो या  नहीं तो  आप क्या करेंगे ? जी हाँ ,आप उसे प्रॉपर utilize करने की कोशिश करेंगे यही समय के साथ भी है। आपको रोज सुबह ८६४०० सेकंड दिए जाते हैं अगर आपने उनका प्रॉपर यूटिलाइजेशन नहीं किया तो अगले दिन ये ख़त्म हो जायेंगे। इन्ही ८६४०० सेकंड को use  करके धीरू  भाई ने रिलायंस बनाई, इन्ही ८६४०० सेकंड में तेंदुलकर बना और धोनी बना आपके पास भी वही ८६४०० सेकंड हैं। 

कोई भी व्यक्ति इतना धनवान नहीं होता ,

की वह अपना बिता हुआ समय खरीद सके।

शेर और  हिरन दोनों तेज दौड़ते हैं। जब वे अपने दिन की शुरुआत करते हैं तो शेर को पता होता है की अगर उसे आज अपना पेट भरना है तो उसे हिरण से तेज दौड़ना ही पड़ेगा और हिरन को भी ये पता होता है की अगर उसे अपनी लाइफ बचानी है तो शेर से तेज दौड़ना ही होगा। 

फर्क पड़ता है उस एक मिनट का जब हिरन शेर की आँखों से ओझल हो जायेगा या शेर हिरण को दबोच लेगा। फर्क ये नहीं है की आप शेर हैं या हिरण लेकिन आपको भी नए दिन के साथ दौड़ना शुरू करना ही होगा। मतलब हर मिनट का उपयोग करना ही होगा।  

हमें यह नहीं पता की हम कब तक जियेंगे। अगर किसी व्यक्ति को ये पता चले की आज से २  महीने के बाद उसकी मृत्यु हो जाएगी तो वह उन २  महीनों को सबसे  अच्छा  बनाने की कोशिश करेगा.वो ये कोशिश करेगा की सारे अधूरे काम निपटा ले,अपने समय को उसी काम में लगाएगा जो उसके लिए सबसे इम्पोर्टेन्ट है उन्ही व्यकितयों के साथ बिताएगा जिन्हें वो सबसे ज्यादा प्यार करता है । इसलिए कहते हैं की जियो तो हर पल ऐसे जियो की वो पल आखिरी हो। 

जैसे बून्द बून्द से घड़ा भरता है वैसे ही हर मिनट मिनट से दिन बनता है। जरुरत है सिर्फ इसकी की हम उसका उसे कैसे करते हैं। समय किसी का इंतजार नहीं करता ये लगातार चलता रहता है किसी के लिए नहीं रुकता। 

समय बीत जाने के बाद क़द्र की जाए तो वो क़द्र करना नहीं अफ़सोस करना कहलाता है। और अगर आप बीते समय पर अफ़सोस कर रहे हैं तो आपका वर्तमान समय भी गुजर रहा है। 

आप ईयर के शुरू में ये संकल्प लेते हैं की मुझे इस ईयर में यह हासिल करना है. शुरू में आप प्रयास भी करते हैं पर १५ दिन में ही आपका उत्साह काम होने लगता है। स्टूडेंट्स के साथ भी ऐसा ही है सेशन के स्टार्ट में सोचते हैं की इस ईयर तो फोड़ कर रख देंगे लेकिन कुछ दिनों बाद आप अपना मोमेंटम खो देते हैं और टाइम आपके साथ से निकलने लगता है। अंत में जब आपके पास टाइम नहीं बचता तो आप जो मिलता है उसी से संतोष कर लेते हैं। और अपना वही लक्ष्य आप अगले ईयर फिर से try करते हैं। मतलब हम उस समय तक इंतजार में समय बिता देते हैं जब तक वो सर पर न आ जाए। 

पर हर ईयर निकलने के साथ आपकी ज़िन्दगी का एक ईयर ख़त्म हो रहा है। 

अगर आपको कहीं जाना है तो आप सोचोगे कैसे जाये की टाइम कम लगे ,कोई काम करवाना हो तो सोचेंगे की कैसे इस काम को जल्दी फिनिश करें ,दुनिया भर के वैज्ञानिक ऐसी चीजों पर शोध कर रहे हैं जिसे यात्रा का समय काम हो  ,पहले हम स्टीम इंजन से मेट्रो ट्रैन पर आ गए हैं अब बुलेट ट्रैन का वेट है और फिर hyperloop का। 

मतलब हम टाइम बचाने की कोशिश कर रहे  हैं पर क्या हम उस बचाये हुए टाइम को सही use कर रहे हैं.टाइम तो अपनी स्पीड से ही चलेगा, आपको साथ चलना है तो चलो या अपना टाइम सोशल मीडिया में ,गप्पें मरने में waste  करो ,ये आप पर है। 

अगर आपको अब भी टाइम की इम्पोर्टेंस नहीं पता तो टाइम में मिली सेकंड का महत्व उस रनर से पूछो जो कुछ मिली सेकण्ड्स से सेकंड पोजीशन पर आया। सेकंड का मतलब उस से पूछो जो महज कुछ सेकंडस  से एक्सीडेंट होने से बच गया। जब कोई क्रिकेटर अच्छा शॉट मारता है तो लोग बोलते हैं की टाइमिंग अच्छी थी तो सारा खेल टाइमिंग का ही है। जितनी अच्छी आपकी टाइमिंग होगी किसी काम को करने की ,आप उतने ही सफल होंगे। 

सफलता कैसे हासिल हो सकती है ,तो दोस्तों ,सफलता का shortcut  है – सही काम करें ,सही तरह से करें और समय पर करें। 

तो क्या अब भी आप सुबह आराम से ही उठोगे ?क्या अब भी आप सोशल मीडिया में समय waste  करोगे ?

कुछ लोग यह केहकर हाथ पर हाथ धरे बैठ जाते हैं की अभी अच्छा समय नहीं है। कहीं आप भी उस टाइम का वेट तो नहीं कर रहे हो  जब सब कुछ आपके अनुकूल होगा दोस्तों ये टाइम आता नहीं है बल्कि बीतता  जाता है  इसलिए अनुकूल समय आने का वेट मत करो आज से और अभी से लग जाओ। 

हमें हर साल नया लक्ष्य हासिल करना है। उसके लिए जरुरी है के इस ईयर का गोल हम इसी ईयर अचीव करें। अगर आपको कुछ 

असाधारण करना है  आज से ही टाइम को utilize  करना है। 

समय का महत्त्व Importance of Time

जिसने कहा परसो,बीत गए बरसो।

जिसने कहा कल,बीत गया पल।।

जिसने कहा आज ,उसने किया राज।।।


Share

1 Trackback / Pingback

  1. 15 August Messages in Hindi -

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*